Shohar Ko Wapas Bulane Ki Dua Aur Amal

Shohar Ko Wapas Bulane Ki Dua Aur Amal

Shohar Ko Wapas Bulane Ki Dua Aur Amal

Shohar Ko Wapas Bulane Ki Dua Aur Amal,”When the husband gets angry with his wife, for a few days, the husband stops speaking with his wife. If his wife is unable to convince his estranged husband in time, a lot of mumps occur in their lives. In such a situation, the husband goes away leaving his house and his wife. After the husband goes away, the wife stays for a few days. But as time goes by. He starts remembering his husband. In such a time, a woman needs her husband very much, shohar ko wapas bulane ki dua aur amal, Some blessings work, and his husband returns.

Every woman does not appreciate her husband till that time, as long as he lives happily with her. As soon as the husband gets angry and leaves him, So the wife realizes that she is not his husband. She keeps crying after remembering her husband’s words. Then Allah prays to Tallah, that he should call his husband back. Allah, seeing his sorrow and pain, instills love in his husband’s heart again. After which a few days later, husband himself comes to meet his wife.

Shohar Ko Wapas Bulane Ki Dua

Quarrels happen in every husband and wife. In anger, shohar ko wapas bulane ki dua, the wife leaves her husband and goes to live with her parents. Then keeps thinking, the husband will definitely come for a day. But she stays in her parents’ house in this same situation. Time goes by But his husband does not come to take him back. In such a situation, it is very important for the woman to read the prayer to bring back the husband. Due to the effect of dua, his husband will call in a single day and will talk to his wife to return.

  1. Do not use dua on someone else’s husband.
  2. Women should not read this prayer in menstruation.
  3. Amal has to study for 11 days.
  4. There is no restriction of time and day, you can start this practice from any day.
  5. You have to read the smallest durood e pak 3 times at the beginning and end. After that 101 times Surah Doha which is mercury nine. I am present in 30, he has to read it.
  6. After finishing the implementation, you go to sleep without talking to anyone. Your next morning call will be received from your husband.
  7. Before doing this, you must respect us.

By reading this dua your husband will come to take you back. So my sisters-in-law request That he should use this blessing properly. And do it only to get your husband back.

Shohar Ko Wapis Pane Ka Amal

Have your husband left you? Are you not coming home to take a husband? Some such thing comes out of the wife’s mouth, which ends her love for the husband. For this reason, he falls in love with another woman. And after marrying that woman, they leave their first wife. In such a situation, there is no fault of those wives, but still there is victim on her, and she keeps on tolerating.

Can’t you live without your husband? He is yearning to get it back. Often the relationship between husband and wife ends with little talk. Due to the quarrel of husband wife, wife gets divorced and goes to her house. After that one realizes the mistake made. So they want to get their husband back.

If an apology can prevent a relationship from breaking up, then an apology should be taken without delay. Because if there is a rift in relations between husband and wife, then it ends only after coming to divorce. If your husband got angry and divorced you. After that you want to make your husband feel at fault, So we must execute the given beauty. Insha Allah, Allah will listen to your pain and suffering soon. And will introduce your husband back to you.

शौहर को वापस बुलाने की दुआ और अमल

हर औरत को उस समय तक अपने पति की क़दर नहीं होती है, जब तक वो उसके साथ ख़ुशी से रहता है. जैसे ही शौहर नाराज़ होकर उसको छोड़ कर चला जाता है, तो बीवी को अपने शौहर न होने का अहसास होता है. अपने शौहर की बातों को याद करके रोती रहती है. फिर अल्लाह तल्लाह से दुआ करती है, कि उसके शौहर को वापस बुला दे. अल्लाह उसके दुःख और दर्द को देख कर उसके शौहर के दिल में फिर से प्यार पैदा कर देते है. जिससे कुछ दिन बाद शौहर खुद अपनी बीवी से मिलने के लिए आ जाता है.

शौहर को वापस बुलाने की दुआ

  1. दुआ को किसी और के शौहर पर इस्तेमाल न करे.
  2. औरत इस दुआ को माहवारी में न पढ़े.
  3. अमल को 11 दिन तक वावज़ू हो कर पढ़ना है.
  4. समय और दिन की कोई भी पाबन्दी नहीं है, आप किसी भी दिन से इस अमल को शुरू कर सकते है.
  5. आपने शुरू और आखिर में 3 बार सबसे छोटी दुरूद ए पाक पढ़नी है. उसके बाद 101 बार सौराह दोहा जो पारा नौ. में 30 में मौजूद है, उसको पढ़ना है.
  6. अमल खत्म करने के बाद आप बिना किसी से बात करके सो जाये. अगली सुबह को आपके शौहर का कॉल आ जायेगा.
  7. इसे करने से पहले आप हम्हारी इज़्ज़त जरूर ले.

इस दुआ को पढ़ने से आपके शौहर आपको वापस लेने के लिए आएगा. तो मेरे बहनो से गुज़ारिश है, की वो इस दुआ का सही इस्तेमाल करे. और अपने शौहर को वापिस पाने के लिए ही करे.

शौहर को वापिस पाने का अमल

क्या आपके शौहर आपको छोड़ कर चले गये है? क्या आपको शौहर लेने के लिए घर नहीं आ रहे है? बीवी के मुँह से कुछ ऐसी बात निकल जाती है, जिससे शौहर के दिल से उसके लिए प्यार खत्म हो जाता है. इसी वजह से वो किसी और औरत से प्यार करने लग जाता है. और उस औरत से शादी करके अपने पहली बीवी को छोड़ देते है. ऐसे में उन बीवी की कोई गलती नहीं है, लेकिन फिर भी उसके ऊपर ज़ुलम होता है, और वो सहन करती रहती है.

क्या आप अपने शौहर के बिना नहीं रह पा रहे है? उसको वापिस पाने की तड़प लगी हुई है. अक्सर छोटी से बात को लेकर शौहर बीवी के बीच रिश्ता खत्म हो जाता है. शौहर बीवी के झगड़े की वजह से तलाक ले कर बीवी अपने घर चली जाती है. उसके बाद में अपनी की गई गलती का अहसास होता है. इसलिए वो अपने शौहर को वापिस पाने चाहते है.

अगर माफ़ी मांग लेने से रिश्ता टूटने से बच सकता है, तो बिना देरी किये माफ़ी मांग लेनी चाहिए. क्योंकि अगर एक बार शौहर बीवी के रिश्तों में दरार पड़ गई, तो बात तलाक पर आकर ही खत्म होती है. अगर आपके शौहर ने गुस्से में आ कर आपको तलाक दे दिया है. उसके बाद आप अपने शौहर को गलती का अहसास दिला चाहते है, तो हम्हारी दी गई शौहर को वापिस पाने का अमल जरुर करे. इंशा अल्लाह इस आपके दर्द और तकलीफ को अल्लाह जल्द ही सुन लेंगे. और आपके शौहर को आपसे वापिस मिलवा देंगे.

One comment

Leave a Reply